वाहन मुआवजा के लिए बनाई फर्जी योजना का पर्दाफाश

Publish 08-01-2018 23:42:39


वाहन मुआवजा के लिए बनाई फर्जी योजना का पर्दाफाश


गाडी स्वामी समेत दो गिरफ्तार।
कोटद्वार |
विगत शनिवार को हुई सिद्वबली मंदिर से चोरी हुई बुलेरो गाडी को  नजीबाबद फ्लाईओवर के नीचे से बरामद कर पुलिस ने तीन लोगो को गिरफ्तार कर चोरी का खुलासा किया। कोतवाली मे पुलिस क्षेत्राधिकारी जोध राम जोशी ने बताया कि जो बुलेरो सिद्वबली मंदिर से चोरी हुई थी उसमें कोटद्वार थाने में गाडी स्वामी महेश गोयल पुत्र जगदीश प्रसाद निवासी रेलवे रोड सुभाष बिहार कलोनी सिम्भावली हापुड के द्वारा अज्ञात के खिलाफ चोरी का मुकदमा दर्ज कराया गया था जिस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौडी के आदेशानुसार एक टीम गठित की गई थी। टीम रविवार को जब नजीबाबाद फ्लाईओवर के नीचे बाई ओर नगीना जाने वाले रास्ते पर चली तो उसे वहा पर एक सफेद रंग की बुलेरो खडी मिली,जिसके आगे नम्बर प्लेट नही थी जिसके पीछे टेप से नम्बर प्लेट पर यूपी 37एच 1559 अंकित था। पुलिस ने आसपास लोगो से पुछताछ की तो ज्ञात हुआ कि यह गाडी शनिवार की शाम से खडी है। जिस पर पुलिस टीम द्वारा इस गाडी की निगरानी की गई। ठीक शाम साढे चार बजे एक बिना नम्बर प्लेट की काले रंग की स्कारपियो गाडी बुलेरो के पास आकर रूकी जिसमें तीन व्यक्ति सवार थे, जिसमें शिकायत कर्ता स्वयं महेश गोयल भी मौजुद था। इस पर पुलिस टीम द्वारा महेश गोयल से पूछताछ कि गयी तो उसने बताया कि जो गाडी कल सिद्वबली मंदिर कोटद्वार से चोरी हो गई थी वह यही गाडी है। जब पुलिस द्वारा स्कारपियो गाडी के कागज मागे तो वह उस गाडी के भी कागज नही दिखा पाये पुलिस ने गाडी सीज कर दी। महेश गोयल ने पुलिस को अपना गुनाह कबुल करते हुए बताया कि वाहन संख्या यूपी37एस 1559 मेरे नाम पंजीकृत है जिसे मैने पहले ही बेच दिया है। तीनो युवको ने इसे आपसी षड्यंत्र  कर गाडी पर अपनी बेची हुई गाडी का नम्बर अंकित कर कोटद्वार से चोरी दिखाकर इंश्योरेंस  क्लैम को हडपने की योजना बनाई। पकडे गये अन्य दोनो युवको ने अपना नाम मान सिंह पुत्र मुलचंद निवासी गढढ नगला थाना पूरी  हापुड व शुभम उर्फ टिंक्कू पुत्र हेमसिंह निवासी गन्टूनाला थानापुरी  हापुड बताया | वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौड़ी गढ़वाल ने खुलाशा करने वाली टीम को 2500 रूपये ईनाम की घोषणा की |  पुलिस टीम में एसएसआई राकेन्द्र कठैत  , उपनिरीक्षक विनोद कुमार,ओमवीर सिंह,का0आबिद अली,कुलदीप सिंह,सुनित कुमार,मुकेश कुमार,राहुल फोर,विनय थपलियाल थे |

To Top