ग्राम कठूड़ में खैर के 50 पेड़ों पर चली आरी, तीन गिरफ्तार, एक फरार

Publish 22-02-2019 18:49:08


ग्राम कठूड़ में खैर के 50 पेड़ों पर चली आरी, तीन गिरफ्तार, एक फरार

कोटद्वार। लैंसडौन वन प्रभाग की लैंसडौन रेंज में अवैध पेड़ कटान थमने का नाम नहीं ले रहा है। लैंसडौन रेज में अवैध पेड़ कटान का मामला प्रकाश में आया है। वन तस्करों ने द्वारीखाल ब्लॉक के ग्राम कठूड़ (नैड़ी) में खैर के 50 पेड़ों पर आरी चला दी। मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि एक फरार है। चारों आरोपियों के खिलाफ वन संरक्षण अधिनियम की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।

लैंसडौन रेंज की रेंजर पूनम कैंथोला व डिप्टी रेंजर अनुराग जुयाल के संयुक्त नेतृत्व में वन विभाग की टीम ने ग्राम कठूड़ में छापेमारी की, जहां टीम को बड़ी तादाद में नापखेत में खैर के पेड़ कटे मिले। मौके पर तीन लोग मौजूद थे, जो काटे गए पेड़ों की डाट को मौके से हटाने की फिराक में थे। टीम ने मौके पर मौजूद तीनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही काटी गई डाटों को कब्जे में लिया।

”प्रभागीय वनाधिकारी वैभव कुमार ने बताया कि मौके पर खैर के 33 पेड़ों के ठूंठ मिले, जबकि 17 ठूंठ उखाड़ दिए गए थे। माना जा रहा है कि वन तस्करों ने पेड़ों की ठूंठ को गायब करने की साजिश रची हुई थी। उन्होंने बताया कि मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपितों में ग्राम ओडल निवासी लक्ष्मण सिंह उर्फ मुन्ना, जनपद बिजनौर के ग्राम सानपुर निवासी समीम और हिमाचल प्रदेश के अंतर्गत बाडा निवासी मनोज शामिल हैं। पूछताछ के दौरान क्षेत्र के एक अन्य व्यक्ति का नाम प्रकाश में आया है और इसी व्यक्ति  के इशारे पर पेड़ कटान कार्य को अंजाम दिया गया। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि फरार व्यक्ति ने फर्जी कागजों के आधार पर ग्रामीणों को गुमराह किया व पेड़ कटान की घटना को अंजाम दिया। कठूड़ गांव में खैर के पेड़ों के कटान के मामले में गिरफ्तार लक्ष्मण सिंह  पर पूर्व में भी अवैध कटान के आरोप में मामला दर्ज है। डीएफओ वैभव कुमार ने बताया कि फरार आरोपी की तलाश की जा रही है।”

To Top