ब्रेकिंग न्यूज़ !
    *** लाइव एसकेजी न्यूज़ पर आप अपने लेख, कविताएँ भेज सकते है सम्पर्क करें 9410553400 हमारी ईमेल है liveskgnews@gmail.com *** *** सेमन्या कण्वघाटी समाचार पत्र, www.liveskgnews.com वेब न्यूज़ पोर्टल व liveskgnews मोबाइल एप्प को उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश राजस्थान, दिल्ली सहित पुरे भारत में जिला प्रतिनिधियों, ब्यूरो चीफ व विज्ञापन प्रतिनिधियों की आवश्यकता है. सम्पर्क 9410553400 *** *** सभी प्रकाशित समाचारों एवं लेखो के लिए सम्पादक की सहमती जरुरी नही है, किसी भी वाद विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र हरिद्वार न्यायालय में ही मान्य होगा . *** *** लाइव एसकेजी न्यूज़ के मोबाइल एप्प को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर से सर्च करे liveskgnews ***

    15बोतल 8 पीएम के साथ एक युवक गिरफ्तार

    14-12-2018 19:18:00

    बांगरमऊ विधानसभा से भाजपा विधायक  है कुलदीप सिंह
    सामूहिक दुष्कर्म के बाद पीड़िता के पिता की छठा करवाने का है आरोप

    उन्नाव/यूपी (संकल्प दीक्षित)।  बांगरमऊ से भाजपा विधागक कुलदीप सिंह सेंगर को CBI ने कस्टडी रिमांड आज खत्म हो गई। रिमांड खत्म होने से पहले ही उन्हें जिला जेल भेज दिया, जबकि सहयोगी महिला शशि सिंह की भी आज दो दिन की रिमांड पूरी हो गई, टीम ने रिमांड खत्म होने से तीन घंटा पहले ही जेल में आमद करा दिया। सीबीआई टीम दोनों का लखनऊ से ही मेडिकल करालाई थी। दोनो को न्यायिक कस्टडी में देने के साथ सीबीआई अब संबंधित प्रपत्र न्यायालय मे पेश करेगी।

    सामूहिक दुष्कर्म और पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में फंसे आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की पुलिस कस्टडी रिमांड आज दोपहर एक बजे पूरी हो गई।  बताया जा रहा है कि सीबीआई विधायक को जेल में दाखिल कराने के बाद अब कोर्ट से अनुमति लेकर   उनका पोटेंसी टेस्ट कराएगी। उन्नाव कांड में बांगरमऊ के भाजपा विधायक कुलदीप सिंह पर पीडि़त किशोरी से दुष्कर्म के आरोपित हैं। इस मामले में सीबीआई ने विधायक व आरोपित शशि सिंह के खिलाफ दुष्कर्म पॉक्सो एक्ट सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। विधायक को पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ करने के दौरान सीबीआइ ने उनका कई बार मेडिकल परीक्षण कराया है। अब सीबीआइ विधायक का पोटेंसी टेस्ट भी कराएगी।उन्नाव कांड में सीबीआई ने आरोपित भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का श्मर्दानगी परीक्षण पोटेंसी टेस्ट भी कराएगी। सीबीआइ टीम गुरुवार को केजीएमयू के यूरोलॉजी विभाग गई थी। लेकिन वहां टेस्ट की सुविधा न होने की जानकारी मिलने पर उसे खाली हाथ लौटना पड़ा।